लिंग खड़ा नहीं हो रहा है ? इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की सही दवा जानिए

लिंग खड़ा नहीं हो रहा है

आज का विषय बहुत ही महत्वपूर्ण होने वाला है क्योंकि आज हम लिंग खड़ा नहीं होना यानी इरेक्टाइल डिस्फंक्शन इस बीमारी के बारे में बात करने वाले हैं | वैसे देखा जाए तो यह एक बीमारी नहीं है लेकिन यह एक ऐसी समस्या है जिससे हमें हमारे ऊपर बुरा महसूस होता है | बहुत सारे लोग ऐसे हैं जिन्हें अपने लिंग को खड़ा करने में बहुत समस्या आती है, जिसे हम पुरुष बांझपन भी कह सकते है और जब वह अपने पार्टनर के साथ यौन संबंध बनाने जाते हैं तो उस समय अगर उनका लिंग खड़ा नहीं होगा तो आप ही सोच सकते हैं कि उनको कैसा महसूस होता होगा ?

एनसीबीआई के सर्वे के अनुसार 30 मिलियन लोग ऐसे हैं जिनका लिंग अच्छी तरह से खड़ा नहीं हो पाता है | इरेक्टाइल डिस्फंक्शन (पुरुष बांझपन) यह एक बहुत बड़ी समस्या है, बहुत सारे लोग इसके बारे में अपने पार्टनर के साथ अपने डॉक्टर के साथ और अपने दोस्तों के साथ बात करने में घबराते हैं, क्योंकि अगर हम किसी को इसके बारे में बता देंगे तो वह व्यक्ति हम पर हंसेगा ऐसा उन्हें लगता है | लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं, जिन्हें इस चीज का डर होता है कि इस इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के कारण शायद उनका पार्टनर उन्हें छोड़ भी दे | क्योंकि सेक्स हमारे जीवन का हिस्सा है और हम उसे नहीं कर पाते हैं, तो किसी को भी गुस्सा आने ही वाला है | शादी होने के बाद पति-पत्नी एक-दूसरे के साथ रोजाना मिलन करते हैं और ऐसी अवस्था में अगर पति अपने पत्नी को खुश ना कर पाए, तो पत्नी का  रूठना जायज है |

आजकल कितना पूर्वक जीवन के कारण बहुत सारे लोग ऐसे हैं, जिन्हें इस समस्या को मुंह देना पड़ रहा है | इरेक्टाइल डिस्फंक्शन हमें अधिक तनाव लेने के कारण भी होता है, ज्यादातर लोग ऐसे ही है जिन्हें तनाव के कारण ही लिंग में तनाव नहीं आना जैसी समस्याएं होने लगती है |

तो चले जान लेते हैं, इसके बारे में ,

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन का असली मतलब क्या है ?

कई बार हमारा लिंग कुछ ना कुछ कारणों की वजह से खड़ा नहीं हो पाता है तो क्या यह इरेक्टाइल डिस्फंक्शन है ? नहीं | इरेक्टाइल डिस्फंक्शन यानी अगर आप अपने पार्टनर के साथ यौन संबंध बनाने जा रहे हो या फिर आप हस्तमैथुन करने जा रहे हो और ऐसे में आपका लिंग खड़ा नहीं हो पा रहा है और यह एक बार नहीं यह बार-बार हो रहा है, तो हम इसे इरेक्टाइल डिस्फंक्शन यानी लिंग खड़ा होने की समस्या कह सकते हैं | लेकिन यदि आपका लिंग हस्तमैथुन करते समय खड़ा हो रहा है और सेक्स करते समय खड़ा नहीं हो पा रहा है तुमसे हम इरेक्टाइल डिस्फंक्शन नहीं कहेंगे | ऐसी अवस्था में आप अपने पार्टनर से डरकर या कुछ तनाव में आकर ऐसा कर रहे हो | लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आपका लिंग खड़ा नहीं हो पाएगा |

जब पहली बार हम किसी लड़की के साथ यौन संबंध बनाने जाते हैं, तो यह बात जायज है कि कोई भी लड़का डरने ही वाला है क्योंकि वह पहली बार लड़की को नंगा देखेगा | अगर ऐसी अवस्था में उस व्यक्ति का लिंग खड़ा नहीं होता है, तो वह इस बात से डर जाता है कि शायद उनका लिंग खड़ा होने में उन्हें कोई समस्या है यानी उन्हें इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की समस्या है | और अगर किसी व्यक्ति ने यह चीज मान ली कि, उसका लिंग सेक्स करते समय खड़ा नहीं हो पाएगा, तो उसका लिंग सच में खड़ा नहीं होता है | क्योंकि उस व्यक्ति का आपने मन पर काबू नहीं है और वह हमेशा इसी चिंता के बारे में सोचता रहेगा कि उनका पार्टनर उनके बारे में क्या सोचेगा ?

तो चलिए जान लेते हैं, लिंग खड़ा ना होने के लक्षण यानी कि इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के लक्षण क्या है ?

 इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के लक्षण जान लीजिए :

अगर आपको नीचे दिए हुए कुछ लक्षण दिखाई दे रहे हैं तो आप समझ सकते हो कि आपको इरेक्टाइल डिस्फंक्शन हो चुका है |

  •  लिंग को खड़ा करते समय हमेशा दिक्कत होना |
  •  लिंग खड़ा होने के बाद उसे खड़ा रखने में बार-बार दिक्कत होना |
  • आपका सेक्स करने का मन ना होना |

कितनी प्रकार की अगर आपको लक्षण दिखाई दे रहे हैं, तो आपको अपने डॉक्टर से मिलना चाहिए |

 डॉक्टर को मिलने की आवश्यकता कब है ?

अगर आपको ऐसा लग रहा है कि आपके पास ऊपर दिए हुए तीनों लक्षण है, तो आप अपने डॉक्टर से जरूर मिले | और हो सके तो अपने फैमिली डॉक्टर से ही इसके बारे में बात करें आपको वह बहुत अच्छी तरह से समझाने का प्रयास करेगा |

  •  अगर आपको ऐसा लग रहा है कि आपका लिंग थोड़े समय तक के लिए भी अच्छे से खड़ा नहीं हो पा रहा है, तो आप अपने डॉक्टर को इस बारे में बताइए जिससे कि वह आपको दवाइयां और गोली भी दे देंगे |
  •  यदि आप अपने लिंग को अपने पार्टनर के योनि में नहीं प्रवेश कर पा रहे हैं, ऐसी अवस्था में आपको अपने डॉक्टर से भी बात कर लेना है |
  •  अगर आपको किसी प्रकार की शारीरिक बीमारी है जैसे कि आप को डायबिटीज है दिल की कोई बीमारी है, तो यह भी इरेक्टाइल डिस्फंक्शन को अंजाम लाते हैं |

और अगर आपको कोई अन्य लक्षण दिखाई दे रहे हैं, तो आप अपने डॉक्टर से इस बारे में खुलकर बात कीजिए |

लिंग खड़ा होने में दिक्कत क्यों आती है ?

वैसे देखा जाए तो दिक्कत अगर आपको आ रही है तो उसके पीछे बहुत सारे कारण हो सकते हैं, यह आपके मानसिक तनाव से सम्बंधित भी हो सकता है | आपके दिमाग के तनाव के कारण हार्मोन में बदलाव के कारण और नसों में चोट लगने से खून की नसें बंद होने के कारण हो सकता है |

लेकिन ज्यादातर अपने मानसिक तनाव के कारण ही इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की समस्या होती है | बहुत सारे लोग ऐसे हैं जिन्हें अपने दैनंदिन जीवन में बहुत सारे तनाव है जैसे कि उन्हें अपने काम के बारे में तनाव है, अपने फैमिली के बारे में और पैसा कमाने के बारे में तनाव आ रहा है और अपने पार्टनर से प्यार के बारे में तनाव आ रहा है इस कारण भी उन्हें इरेक्टाइल डिस्फंक्शन जैसी समस्याएं होती है |

फिजिकल और मेंटल तनाव के कारण यह होता है |

 फिजिकल तनाव में क्या होता है ?

यह हमारे शरीर से संबंधित होने वाले तनाव के कारण होता है | इसमें कई सारी चीजें आती है जैसे कि –

  •  नसों का खराब होना
  •  डायबिटीज
  •  हार्ट के प्रॉब्लम
  •  हाई कोलेस्ट्रॉल
  •  हाई बीपी
  •  अधिक धूम्रपान करना
  •  सर्जरी करते हुए कोई कॉम्प्लिकेशन
  •  तंबाकू का सेवन
  •  नींद ना आने की बीमारी
  •  टेस्टोस्टेरोन की मात्रा कम होना

इत्यादि प्रकार के शारीरिक कारण है इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के बारे में |

 मानसिक तनाव के कारण :

मानसिक तनाव ही बहुत भयानक होता है और इसके कारण हम अच्छे अच्छे इंसान को बीमार होते हुए देख लेते है |

इसमें –

  •  फैमिली के कारण डिप्रेशन में जाना
  •  पैसों के कारण तनाव महसूस करना
  •  नौकरी के कारण तनाव आना
  •  अपने पार्टनर के प्यार से संबंधित तनाव
  •  बिजनेस के संबंधित तनाव आना
  •  दैनंदिन जीवन में होने वाले बदलाव के कारण तनाव
  •  हाइपरटेंशन

इत्यादि प्रकार के मानसिक तनाव के कारण है |

अब हम जान लेते हैं, इरेक्टाइल डिसफंक्शन के नुकसान क्या है ?

 इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के नुकसान :

अगर हमें इरेक्टाइल डिस्फंक्शन जैसी समस्याएं होती है, तो हमें कई सारे नुकसान हो सकते हैं जैसे कि –

  1.  जरा पर लोगों के शादीशुदा जीवन में इस कारण बुरा प्रभाव पड़ता है और अपनी बीवी को खुश ना कर पाने के कारण पति और पत्नी में दूरी आने लगती है | पत्नी खुश ना होने के कारण किसी और व्यक्ति की तलाश में जा सकती है, जो उसे संतुष्ट कर सके |
  2.  लोगों का अपने वैवाहिक जीवन में मन नहीं लगता है |
  3.  शादी होने के बाद बच्चा पैदा करने में समस्याएं होने लगती हैं, क्योंकि लिंग खड़ा ना होने के कारण औरत को प्रेग्नेंट करना मुश्किल है |
  4.  हमारे कॉन्फिडेंस और इसका बहुत बुरा असर पड़ता है हम जिंदगी में कुछ भी नहीं कर पाते हैं |

 इरेक्टाइल डिस्फंक्शन यानी कि लिंग खड़ा होने की समस्या का इलाज कैसे करें ?

अब हम जान लेते हैं कि हम कैसे इस समस्या से छुटकारा पाकर अपने लिंग को बड़ी आसानी से खड़ा कर सकते हैं | वैसे देखा जाए तो इसका इलाज करने के लिए बहुत सारे तरीके आजकल मौजूद है, जिसमें से बहुत सारे लोगों को फायदा हुआ है |

 टैबलेट लेकर : 

अगर आप डॉक्टर के पास जाओगे और आपको तुरंत अपने लिंग को खड़ा करना चाहिए, इसलिए उनसे बात करोगे तो वह आपको कुछ टेबलेट देंगे जिस टेबलेट का सेवन आमतौर पर यौन संबंध बनाने के 40 से 90 मिनट पहले करना पड़ता है |

डॉक्टर आपको वायग्रा विगोर जैसी टेबलेट बताएंगे जिससे आप अपने लिंग को 1 से 2 घंटे तक बड़े आसानी से खड़ा कर सकते हो | लेकिन इसके कारण आपको थोड़े बहुत साइड इफेक्ट भी झेलने पढ़ सकते हैं |

आपको बिना डॉक्टर के सलाह के इस टैबलेट को नहीं लेना है | डॉक्टर आपके दिल को चेक करेंगे और उसी प्रकार से आपको इस दवाई का सेवन करना है या नहीं इसकी सलाह देंगे |

अगर आप वायग्रा या विगौर जैसे टेबलेट को खाते हैं तो आपको कई नुकसान हो सकते हैं जैसे कि –

  1.  आंखों में धुंधलापन
  2.  आंखों में जलन होना
  3.  पेट में गड़बड़ी हो ना
  4.  सिर दर्द करना

इसी प्रकार की समस्याएं आपको इस टैबलेट का सेवन करने से हो सकती है | लेकिन आप इस टैबलेट का सेवन करके अपने लिंग को दो से 3 घंटे तक भी खड़ा कर सकते हो | अगर आपको ऐसा लग रहा है कि आपको इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की समस्या है और आपको अपने बच्चे पैदा करने के लिए सेक्स करना आवश्यक है तो आप इस टेबलेट का सेवन डॉक्टर की सलाह से कर सकते हो |

 वेक्यूम डिवाइस का इस्तेमाल करके : 

आजकल मार्केट में लिंग वर्धक मशीन उपलब्ध है और यह मशीन हमारे लिंग के नसों में खून का प्रवाह बढ़ाने का काम करती है | इसमें एक पाइप होता है जिसमें आपको अपने लिंग को डालना होता है और एक हाथ से उस पर दिए हुए पंप से प्रेशर बनाना पड़ता है जिससे कि लिंग के अंदर खून का प्रवाह बढ़ने लगता है और हमारा लिंग जल्दी खड़ा हो जाता है |

बहुत सारे लोग इस पंप का इस्तेमाल सेक्स करने से पहले करते हैं जिस कारण लिंग की नसों में खून का प्रवाह अच्छे से होता है और हमारा लिंग खड़ा हो जाता है |

 सर्जरी करने से :

वैसे सर्जरी का नाम सुनकर ही बहुत लोगों को डर लगने लगता है लेकिन इरेक्टाइल डिस्फंक्शन से हमेशा के करा पाने के लिए सर्जरी ही सबसे बढ़िया तरीका है | लेकिन यह महंगा होने के कारण बहुत सारे लोग इसका सोचते भी नहीं है | सर्जरी में आपके लिंग पर वहां

  1.  पेनाइल इंप्लांट सर्जरी : यह बहुत आखरी स्टेप वाला ऑप्शन होता है इसीलिए यह ज्यादातर लोग नहीं करते हैं |
  2.  वेसल सर्जरी : इस सर्जरी में अगर आपके लिंग की नसों में खून का प्रवाह अच्छे से नहीं हो पा रहा है या आपके लिंग की नसों में किसी प्रकार का दबाव आ रहा है, तो यह सर्जरी करने पर यह समस्या खत्म हो जाती है और आपका लिंग बड़े आसानी से खड़ा हो सकता है |

किसी अच्छे डॉक्टर से ही इस सर्जरी को करें |

 मेडिटेशन यानी योगा करने पर :

अक्सर आपने सुना होगा कि आपको किसी प्रकार का तनाव होता है तो आपको मेडिटेशन करना चाहिए | मेडिटेशन करने से हमारा दिमाग शांत हो जाता है और हमें इस चीज का ख्याल ही नहीं आता है कि हमें किसी प्रकार का तान तनाव है | अगर आप तनाव से मुक्त होते हैं तो आपको अपने लिंग पर तनाव का असर कम होता हुआ दिखाई देगा | मानसिक तनाव के कारण कई सारे लोगों के लिंग खड़े होने से रुक जाते हैं और ऐसी अवस्था में मेडिटेशन बहुत ही बेहतर तरीका है इरेक्टाइल डिस्फंक्शन से छुटकारा पाने के लिए |

अगर आपको तनाव के कारण लिंग खड़ा होने में समस्या आ रही है तो आप इस उपाय का इस्तेमाल करके अपने लिंग को बड़े आसानी से खड़ा कर पाते हो |

 इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की घरेलू दवा :

वैसे आप इसी के बारे में पहले से खोज रहे होंगे, कि आप घर पर अपने लिंग को खड़ा कैसे कर सकते हैं | इरेक्टाइल डिस्फंक्शन को अगर आप घर पर ठीक करना चाहते हो तो आपको कुछ घरेलू उपाय आजमाना चाहिए जैसे कि :

 कौंच बीज का सेवन :

कौंच बीज हमारे यौन जीवन को बेहतर बनाने वाला एक अच्छा जरिया है | इसके मदद से हम हमारे शरीर में टेस्टोस्टेरोन की मात्रा बढ़ा सकते हैं | अक्सर शरीर में टेस्टोस्टेरोन मात्रा कम होने के कारण इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की समस्याएं होती है | अगर आपको अपने शुक्राणुओं को बढ़ाना है, तो यह एक असरदार दवा की तरह काम करता है | आपको यह कौंच बीज रात को एक कप गुनगुने पानी में एक चम्मच की मात्रा में सेवन करना है |

 सफेद मूसली का इस्तेमाल करके :

सफेद मूसली को इंडियन वायग्रा यानी कि देसी वायग्रा भी कहा गया है | इसको अगर हम लगातार तीन महीनों तक रोजाना इस्तेमाल करते हो तो यह आपके शरीर में सेक्सुअल डिजायर बढ़ाने का काम करता है | आपको इसे रात को सोने से पहले दूध के साथ सेवन करना है |

 अश्वगंधा पाउडर : 

आपने कई बार अश्वगंधा पाउडर के गुण सुने होंगे लेकिन यह आपके शरीर में इरेक्टाइल डिस्फंक्शन जैसी समस्याओं से छुटकारा दिलाने के लिए भी काम करता है | यहां हमारे शुक्राणुओं को गाढ़ा करने का काम करता है | शरीर में टेस्टोस्टेरोन की मात्रा बढ़ाने का काम भी बहुत अच्छी तरीके से करता है | मगर आपका यौन संबंध बनाने का मन नहीं हो रहा है, तो यह दवाई की तरह काम करता है |

रोजाना रात में आपको यहां दूध के साथ सेवन करना है आप अश्वगंधा पाउडर ले सकते हैं या फिर अश्वगंधा कैप्सूल भी खा सकते हैं |

जिनसेंग का इस्तेमाल :

चीनी दवाइयों में हर्बल चिकित्सा में जिनसेंग यह एक सबसे असरदार दवाई इरेक्टाइल डिस्फंक्शन में मानी गई है | जिन लोगों के लिंग खड़े नहीं होते हैं उन लोगों को जिनसेंग लेना बहुत ही फायदेमंद होता है | आपको रोजाना दूध के साथ जिनसेंग कि पाउडर को लेना होता है और यह चीनी लोगों में बहुत ही गुणकारी दवाई मानी गई है |

पुराने समय से वह इसे सेवन करते हैं और अपने पार्टनर को संतुष्ट करते हैं | जब पुराने समय में वाइग्रा की गोलियां नहीं थी तब इस समय जिनसेंग ही वायग्रा कहा जाता था |

अनार का जूस पीने से :

वैसे आप सोच रहे होंगे कि क्या अनार का जूस पीने से हमारा लिंग खड़ा हो सकता है? बल्कि बात ऐसी है कि यह जूस पीने से आपको कई सारे फायदे मिलते हैं जिससे कि आपको अपने लिंग खड़ा होने में भी फायदा होते हुए दिखाई देगा | अगर आप नियमित तरीके से रोजाना अनार का जूस पीते हो तो आपको कुछ ही दिनों में थोड़े बहुत बदलाव होते हुए दिखाई देंगे |

योहिम्बे :

कई सारे लोग इस योहिम्बे पहली बार सुन रहे होंगे लेकिन यह एक असरदार दवा लिंग खड़ा करने की समस्या में मानी गई है | लेकिन यह पश्चिम अफ्रीका में ज्यादा पाया जाता है | आपसे ऑनलाइन पाउडर के रूप में मंगवा सकते हो |

अगर आप के हारमोंस में बदलाव होते हैं तो उस पर लोग को अच्छी तरह से संतुलित रखने का काम यह योहिम्बे करता है | पुराने जमाने में इसे भी वायग्रा कहा जाता था |

दोस्तों यह थे कुछ घरेलू नुस्खे लिंग में तनाव ना आने की समस्या के | अगर आपको ऐसा लग रहा है कि आपके लिंग में तनाव अभी भी नहीं आ रहा है तो आपको अपने डॉक्टर से तुरंत मिलना है |

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: चोरी करोगे तो कॉपीराइट नोटिस पाओगे.
Scroll to Top